हरदोई……..सांडी। मोहल्ला नवाबगंज में संचालित प्राथमिक विद्यालय का एक कमरा शनिवार सुबह भरभरा कर गिर गया। अच्छी बात यह रही कि जिस समय कमरा गिरा, उस समय वह खाली था।स्कूल में पढ़ने वाले छात्र दूसरे कमरे में बैठे थे नहीं, तो बड़ा हादसा हो सकता था, लेकिन छत गिरने से दूसरे कक्ष में बैठे बच्चे काफी सहम गए और घबराहट में घर भागने लगे। कुछ बच्चे ही वहां रुके थे, उन्हें भी स्कूल प्रबंधन ने घर भेज दिया।विद्यालय की प्रधानाचार्य मुकीद बेग ने बताया कि स्कूल में 334 बच्चे पंजीकृत हैं। इनमें से 110 बच्चे ही शनिवार को आए थे। स्कूल के भवन में नवाबगंज पूर्वी, वार्ड संख्या 18 व वार्ड संख्या 3 के आंगनबाड़ी केंद्र भी संचालित होते हैं।इन आंगनबाड़ी केंद्रों के 39 बच्चे भी भवन में हादसे के वक्त मौजूद थे। स्कूल में पढ़ाई चल रही थी। इस बीच भवन के एक हिस्से की छत भरभराकर ढह गई। छत ढहने की आवाज से बच्चे घबराकर बाहर भागे।मुकीद ने बताया कि वह पिछले तीन सत्र से भवन बनवाने के लिए प्रस्ताव भेज रहीं हैं। इसके बाद भी सुनवाई नहीं हो रही है। बीईओ प्रभावती ने बताया कि जर्जर भवनों की नीलामी के बाद ही नए भवन निर्माण की प्रक्रिया कराई जा सकती है।नवाबगंज प्राथमिक विद्यालय समेत दो अन्य विद्यालय कन्या जूनियर नौशहरा व प्राथमिक विद्यालय खालसा के भवन भी जर्जर हैं। नीलामी के बाद इन भवनों का ध्वस्तीकरण कराया जाएगा। बताया कि प्राथमिक विद्यालय में वर्ष 2008-09 में बने कक्षों का प्रयोग किया जा रहा है। वह क्षतिग्रस्त नहीं हुए हैं।

रिपोर्ट पुनीत शुक्ला

Leave a Reply

Your email address will not be published.